Anil Agarwal Biography in Hindi

Anil Agarwal Biography, Age, Income, Net worth, House, Family & More

Quick Info about Anil Agarwal:-

Full name Anil Agarwal (अनिल अग्रवाल)
Date of birth (जन्म तिथि) 24 जनवरी 1954
Birthday 24th जनवरी
Age 67 साल (2021)
Height 5’9″ feet
Net Worth 2021 $384 Crores USD (Approximately)
Wife Name Kiran Agarwal (किरन अग्रवाल)
Nationality Indian
Home Town पटना, बिहार

Anil Agarwal Biography in Hindi

देश के टॉप सफल उद्योगपति की लिस्ट में शामिल होने वाले वेदांता फाउंडेशन के चेयरमैन श्री Anil Agarwal का जन्म 24 जनवरी सन् 1954 में बिहार की राजधानी पटना में हुआ था।

इनकी जिंदगी देश के सभी युवाओं को सीख देती है कि संघर्ष, मेहनत, तथा लगन के सहारे एक कबाड़ी भी करोड़पति बन सकता है।

अनिल अग्रवाल का जन्म एक मध्यमवर्गीय बिहारी परिवार में हुआ था। इनका पचपन चुनौतियों से भरा हुआ रहा और सिर्फ 15 साल की उम्र में संघर्ष करना शुरू कर दिया था।

इनके पिता जिनका नाम द्वारका प्रसाद अग्रवाल था वो एक छोटे से बिजनेस से अपने घर की सारी जरूरतें पूरी कर रहे थे। इस छोटे से बिजनेस में वो एल्युमिनियम का कार्य करते थे जिसमें एल्युमिनियम के कंडक्टर (aluminium conductors) बनाने का कार्य किया जाता था।

Anil Agarwal wiki/bio/Info in hindi

Full name(पूरा नाम )Anil Agarwal ( अनिल अग्रवाल)
Nick name(अनिल)
Cast ( जाति(अग्रवाल)
Sub cast( उप जाति)Bania community
Cast category( वर्ग)Gen.( जनरल)
Religion( धर्म)Hindu(हिन्दू)
Nationality( नागरिकता)Indian ( भारतीय)
Date of birth(जन्म तिथि)24 जनवरी सन् 1954
Birth place(जन्म स्थान)Patna ( पटना)
State(राज्य)Bihar (बिहार)
Zodiac sign(राशि)Aries
Occupation 
Languages(भाषाएं)बिहारी, हिंदी, English
Hometown (घर)Patna Bihar
Residence addressMumbai
Famous for(प्रसिद्ध है)Vedanta foundation (वेदांता फाउंडेशन)
Known as ( उपाधि)Industrialist
Current location and updatesLondon (लंदन)
Anil Agarwal Early Life

Anil Agarwal life introduction & Early life (जीवन परिचय)

अनिल अग्रवाल के जीवन की शुरुआत पटना बिहार से हुई और शिक्षा के लिए उस समय पटना में उतनी उन्नति नहीं हुई थी लेकिन किसी प्रकार इनके पिता Dwarka prasad Agarwal जी ने शिक्षा संबंधी सभी सामग्री की व्यवस्था कर अनिल अग्रवाल को एक सरकारी स्कूल में दाखिला दिलवाया और इनकी प्रारंभिक शिक्षा को जारी रखा।

अनिल अग्रवाल लगभग 13-14 साल की उम्र में अपने परिवार की स्थिति को अच्छी तरह समझ चुके थे।

सन् 1960 में इनके पिता ने अपना व्यापार शुरू किया था और 8 साल बाद सन् 1968 में इस बिजनेस द्वारा कोई विशेष बृद्धी नहीं हुई और इनके पिता एल्युमिनियम के इस व्यापार से अभी भी कमाई कर रहे थे लेकिन अकेले इसमें सफल होना इतना संभव भी नहीं लग रहा था, कारणवश अनिल अग्रवाल ने अपनी शिक्षा को बिराम दिया और महज 15 साल की उम्र में अपने पिता के बिजनेस में हाथ बटाने लगे। इसका एक कारण यह भी था की इनके घर से स्कूल की दूरी करीब 10 किलोमीटर थी और इस दूरी को पैदल ही तय करना होता था, जिसके कारण कहीं न कहीं ये दूरी उनके नियमित शिक्षा में वाधा दाल रही थी।

लेकिन अनिल अग्रवाल के पिता द्वारका प्रसाद अग्रवाल इस प्रकार के संघर्ष से पहले ही रूबरू हो चुके थे और वे हरगिज़ नहीं चाहते थे की उनके बेटे को शिक्षा के लिए इतना संघर्ष करना पड़े, इसीलिए इनके पिता ने एक नई साइकिल उपहार में दी और अपने बेटे को नियमित शिक्षा जारी रखने को कहा।

लेकिन अपने पिता को अकेले बिजनेस करते देख अनिल अग्रवाल इसी बिजनेस में वृद्धि करना चाहते थे जिससे उनके परिवार का विकास हो सके और इसी धारणा को रखते हुए अपने पिता के साथ व्यापार करने में रुचि दिखाई।

अनिल अग्रवाल ने प्राइमरी से हॉयर सेकेंडरी स्कूल तक की पढ़ाई कर ली थी और इसके आगे की पढ़ाई पूरी होनी वाकी थी कि इन्होंने अपने स्कूल को छोड़ दिया और पूरा ध्यान अपने इसी बिजनेस पर लगाया।अनिल अग्रवाल हार्डवेअर का काम भी करने लगे जैसे लोहे के घरेलू सामान बनाना, गेट बनाना,लोहे की जाली बनाना आदि।

जैसे जैसे अनिल कुमार बड़े हुए वैसे ही उन्हें ये समझ आ गया कि इस बिजनेस में कितनी भी मेहनत कर लें लेकिन इसके सहारे एक अच्छा जीवन नहीं मिल सकता।

और अपने कैरियर को सफल बनाने और परिवार की आर्थिक स्थिति को सुधारने हेतु इन्होंने नए व्यापार को लेकर योजना बनाई और पटना से पुणे रवाना हुए।

सन् 1970-71 में इन्होंने स्क्रैप मेटल का कार्य शुरू किया और धीरे धीरे इनकी योजना में अच्छा भविष्य नजर आने लगा।

सन् 1975 में 21 साल की उम्र में अनिल अग्रवाल की किरण गुप्ता (kiran Gupta) नाम की लड़की से शादी हो गई।

जब इन दोनों की शादी हुई तब किरन गुप्ता की उम्र 16 साल थी और अनिल अग्रवाल की उम्र 21 साल!

बाद में अनिल अग्रवाल पुणे से मुंबई आ गए और अपने बिजनेस को बढ़ावा देकर लगभग 2 साल बाद सन् 1976-77 में एक शैमशर स्टर्लिंग नामक कॉर्पोरेशन को खरीद लिया।

Anil Agarwal education qualification (शैक्षणिक योग्यता)

प्राइमरी तथा हॉयर स्तर की शिक्षा पटना मिलर स्कूल से पूरी हुई तथा हॉयर सेकेंडरी को पास करने से पहले ही इन्होंने स्कूल को छोड़ दिया था।

Primary educationPassed
Secondary educationIncomplete
School nameMiller high school Patna, Bihar
Passing dateSince 1969
GraduationUnder review
College/university nameMalaviya Engineering College
Degree typeUnder review
Graduation dateWill update soon

Anil Agarwal Career (कैरियर)

अनिल अग्रवाल के इस 1960-1976 तक के बिजनेस कैरियर में काफी उतार चढ़ाव सामने आए लेकिन 1976 में शैमशार स्टर्लिंग कॉर्पोरेशन को खरीद कर सफलता का दूसरा सबसे बड़ा कदम रखा।इसी समय अनिल अग्रवाल ने अपने जीवन का  दूसरा फाउंडेशन Vedanta Foundation की स्थापना की।

Shamsher sterling corporation के बाद इन्होंने copper works को भी आगे बढ़ाया और बैंक से लोन लेकर वाकी कमियों को पूरा करते हुए अपने दोनो व्यवसाय में काफी सुधार भी किया।

लगभग 10 साल बाद anil Agarwal ने अपनी कंपनी के सभी कार्यों को ढंग से परख और सही जांच की, जिसमें उन्हें पता चला की manufacturing के कार्य में growth करना वाकी है क्योंकि वाकी other विदेशी manufacturing companies इससे आगे निकलने लगी थी।

बैंक का ये loan मुख्यत अपनी वर्षों की योजना,vedant foundation को विधिवत रूप से चलाने के लिए लिया था।

Anil Agarwal ने अपने काम का अलग रास्ते चुना और लगातार बेहतरीन परिणामों के साथ सन् 1993 में अनिल अग्रवाल की shamsher sterling corporation कंपनी भारत की सबसे बड़ी पहली प्राइवेट copper & aluminium smelter कंपनी बनी।

Anil Agarwal की इस सफलता पर उनके सभी चाहने वालों ने खुशी मनाई और ये कारनामा पूरे बिहार के लिए गौरव की बात थी, लेकिन इतने संघर्ष से मिली इस सफलता पर फिर से बूरा समय व्यतीत होने लगा। इसके 2 साल बाद सन् 1995 में इनकी इस शमशेर स्टर्लिंग कॉर्पोरेशन पर ताला लगने जा रहा था। दरअसल कार्य में किसी प्रकार की छेड़छानी का आरोप लगते हुए इनके कार्य पर सवाल उठना शुरू हो गए।

लेकिन वेदांता फाउंडेशन का समूह प्रतिदिन मजबूत होता जा रहा था और सन् 2001 तक इस फाउंडेशन ने पूरे एशिया में एक अलग पहचान बनाई।

इसी सफलता को ध्यान में रखते हुए Anil Agarwal और vedanta group team ने इसे London में मुख्य शाखा के रूप में खोलना चाहा और सफलता के तीन साल बाद सन् 2003 में Vedanta foundation को London में स्थापित कर दिया।

आज वेदांता समूह पूरी दुनिया में metal wire तथा natural resources के लिए जाना माना नाम बन चुका है और ये भारतीय कंपनी London में स्थित सबसे भरोसेमंद ब्रांड है जिसने वाकी दूसरी कंपनी के मुकाबले दोगुना ज्यादा सेल्स की हैं।

Anil Agarwal’s family information (घर,परिवार संबंधी जानकारी)

Anil Agarwal father’s name (अनिल अग्रवाल के पिता का नाम)Dwarka Prasad Agarwal (द्वारका प्रसाद अग्रवाल)
Anil Agarwal Mother’s name ( माता का नाम )Not known
Anil Agarwal’s wife’s name (अनिल अग्रवाल की पत्नी का नाम)Kiran Agarwal (किरन अग्रवाल)
Anil Agarwal’s Brothers ( भाई)Naveen Agarwal ( नवीन अग्रवाल)
Sister( बहन)Not known
Anil Agarwal Children( अनिल अग्रवाल के बच्चे)1 बेटा और 1 बेटी
Anil Agarwal’s son ( अनिल अग्रवाल के बेटे का नाम )Agnivesh Agarwal ( अग्निवेश अग्रवाल)
Daughter( अनिल अग्रवाल की बेटी का नाम )Priya Agarwal ( प्रिया अग्रवाल)
CousinsNot known
Best friendsWill update soon

Anil Agarwal’s business details (व्यापार)

  • Vedanta foundation(वेदांता फाउंडेशन)
  • Jelly filled cables manufacturing
  • Shamsher Sterling corporation

(शमशेर स्टर्लिंग कॉर्पोरेशन)

  • Natural resources
  • Oil/gas आदि

The Vedanta Foundation (वेदांता फाउंडेशन)

5 साल पुरानी योजना का शुभारंभ 1976 में Vedanta foundation के रूप में किया गया।

ये उस समय की बहुत छोटी कंपनी थी जिसे एक किराए के मकान में शुरू किया और अपनी सफलता की पहली चड़ाई चड़ी।

इनका ऑफिस इतना छोटा था जिसे देख ये अंदाजा नहीं लगाया जा सकता था कि ये फाउंडेशन का कोई भविष्य भी होगा ।

इन्होंने लोकल कार्य शुरू अपने पड़ोसी सभी राज्यों से स्क्रैप मेटल खरीदे और और मुंबई में सेल करके लगभग 10 साल तक इसी तरह अपने व्यापार को आगे बढ़ाया।

 इन्होंने इस फाउंडेशन को शुरू करने हेतु काफी संघर्ष किया था,bank से loan लेने के लिए anil Agarwal हमेशा bank manager से request किया करते थे लेकिन उनके loan की कोई उम्मीद नहीं दिख रही थी काफी दिन bank में जाने के बाद आखिरकार एक दिन इनका loan success हुआ,

इन पैसों को उन्होंने vedant foundation की समस्त प्रकार की पूर्ति करने हेतु लगा दिए।

इसका headquarter London में स्थित है।

वेबसाइट:- www.vedantaresources.com

Anil agarwal Controversy (विवाद)

वर्ष 2004 वेदांता फाउंडेशन और अनिल अग्रवाल के लिए बहुत साबित हुआ।

दरअसल इनकी इस कंपनी में हो रहे उत्पादन को वातारण का एक बड़ा प्रदूषक मानते हुए Indian supreme court ने इसपर रोक लगा दी।

इसके मटेरियल पर सुधार के कुछ समय बाद वेदांता फाउंडेशन पर आरोप लगाया गया कि ये भारत सरकार को उचित टैक्स नहीं देती है फलस्वरूप फिर से इसपर सवाल उठना शुरू हो गए।

इस तरह के कई विवाद इनके इस व्यापार में होते रहे।

Anil Agarwal Income, Salary and Net worth (इनकम तथा नेटवर्थ)

वर्तमान में अनिल अग्रवाल की आय का ज्यादातर हिस्सा London से आता है और भारत के व्यवसाय से भी इन्हे अच्छा मुनाफा हुआ है साल 2020 में इनका नाम टॉप उद्योगपति की सूची में शामिल हुआ।

2021 के डेटा के अनुसार अनिल अग्रवाल $384 Crores USD (Approximately) संपत्ति के मालिक हैं

(Anil Agarwal net worth is $384 Crores USD (Approximately) )

Anil Agarwal Great social works (अनिल अग्रवाल द्वारा किए गए महान कार्य)

उनके द्वारा दिया गया दान जिसने पूरी दुनिया को सोचने पर मजबूर कर दिया।

बात साल 2014 की है जब अनिल अग्रवाल ने भारत की शिक्षा प्रणाली को सुधारने और जन कल्याण के लिए अपनी कमाई का 75% से भी ज्यादा हिस्सा दान कर दिया, ये रकम 21000 करोड़ भारतीय रुपयों से भी ज्यादा की थी। आप इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि इतना दान करने वाला व्यक्ति कोई साधारण व्यक्ति नहीं हो सकता।

इसके अलावा अनिल अग्रवाल ने कई बार देश के लिए दान दिया और जनकल्याण में आर्थिक मदद हेतु सबसे आगे आए!

Anil Agarwal Donation in Covid-19 situation (covid-19 में लोगों के हित में अनिल अग्रवाल का योगदान व लोक कल्याण)

देश में coronavirus की महामारी में लाखों लोग इसकी चपेट में आए और सिर्फ भारत ही नहीं वल्कि पूरी दुनिया की economy काफी नीचे गिर चुकी है लेकिन इस बार भी खुद के परिवार और संपत्ति का न सोचते हुए अनिल अग्रवाल ने अपने देश के लिए 100 करोड़ रुपए की राशि दान की ।

यह योगदान भारत सरकार और भारतवासी के भविष्य के लिए बहुत बड़ा योगदान साबित हुआ।

इसकी जानकारी देते हुए उन्होंने एक ट्वीट किया जिसमें लिखा था #DeshKiZaroortonKeLiye

Anil Agarwal with his Wife

Anil Agarwal with wife Kiran Agarwal (किरन अग्रवाल)

Anil Agarwal’s thoughts (सुविचार)

      “किसी भी असंभव लक्ष्य को प्राप्त करने से पहले उसकी कल्पना करना चाहिए तत्पश्चात् पूर्ण आंकलन और प्रतिबद्धता के साथ अपने लक्ष्य को पाने के लिए आगे बढ़ना चाहिए “

Anil Agarwal age, height, weight & Personal information, (निजी जानकारी)

Anil Agarwal age67 year old
Anil Agarwal heightIn feet – 5’9 In cm – 175.2 In meter – 1.78
Weight69 kilograms
Skin colourWhite
Eye colourBrown
Hair colourGrey to silver
ChestNot known
Hair styleSimple short hair
Shoes number7.2UK

Anil Agarwal Awards (अवॉर्ड्स)

  • सन् 2012 में business leader award से सम्मानित किया गया।
  • सन् 2016 में अनिल अग्रवाल को Entrepreneurs of the year के asian awards से नवाजा गया।
  • 2008 में young entrepreneur का अवॉर्ड मिला
  • Lifetime achievement award से अनिल अग्रवाल को 2009 में सम्मानित किया गया था।
  • इनके द्वारा चलाई गई schemes जैसे Nand Ghar के लिए अवॉर्ड से सम्मानित किया। आदि

Anil Agarwal Current Updates

अनिल अग्रवाल का घर अथवा स्थाई पता पटना बिहार है, लेकिन पिछले कई सालों से इनका निवास स्थान इंग्लैंड में रहा, वर्तमान में ये अपने परिवार के साथ London में ही रहते हैं

Anil Agarwal’s Contact details (संपर्क साधन)

Anil Agarwal mobile number- ☎️9910483700

WhatsApp number- Not known

Twitter account- https://twitter.com/anilagarwal_ved?lang=en

Instagram account- https://www.instagram.com/bbiinnuuu/?hl=en

Facebook account- https://www.facebook.com/public/Anil-Agarwal

Mail id – [email protected]

Address- A.Piplawan ३/८ Patna, Pincode-801109 (Bihar, India)

Current address- E1 7BH, Aldgate London, zipcode-533489 (England)

Secret facts of Anil Agarwal

  • अनिल अग्रवाल को बाहर घूमने का शौक है।
  • इन्हे अपने परिवार और दोस्तों के साथ समय व्यतीत करने में सबसे ज्यादा आनंद आता है।
  • अनिल अग्रवाल अपनी संपत्ति को देश हित में लगने पर ही इसे महत्व देते हैं।
  • लोगों की भलाई के लिए इन्होंने अपने परिवार की आर्थिक विकास तक को रोक दिया था।
  • अनिल अग्रवाल एक ऐसे भारतीय हैं जिनकी गिनती London के टॉप उद्योगपति में की जाती है।
  • अनिल अग्रवाल को English language में सबसे ज्यादा समस्या हुई है और इंग्लिश में कमजोर होने के कारण कई बार निराशा भी हाथ लगी थी।
  • इन्होंने शिक्षा सुधार के लिए तमाम प्रयास

किए जिनमें से सभी प्रयास सफल हुए।

FAQ

Q. Vedanta foundation के चेयरमैन कौन है?

Ans. अनिल अग्रवाल

Q. Vedanta foundation कहां स्थित है?

Ans. London

Q. अनिल अग्रवाल कौन है?

(Whos is Anil Agarwal)

Ans. एक Indian businessman तथा industrialist

Q. Shamsher sterling corporation के चेयरमैन या फाउंडर कौन है?

Ans. Anil Agarwal

Q. अनिल अग्रवाल के बिजनेस में क्या कार्य किया जाता है?

Ans. Copper, aluminium conducts wire, gas/ oil natural resources

Q. अनिल अग्रवाल की पत्नी का क्या नाम है?

Ans. किरन गुप्ता

Q. अनिल अग्रवाल की बेटी का क्या नाम है?

Ans. Priya Agarwal

Q. अनिल अग्रवाल के बेटे का क्या नाम है?

Ans. अग्निवेश अग्रवाल

Q. अनिल अग्रवाल का जन्म कब हुआ था?

Ans. जनवरी सन् 1954 में

Q. अनिल अग्रवाल का जन्म कहां हुआ था?

Ans. पटना, बिहार में

Q. क्या अनिल अग्रवाल alcoholic drinks करते हैं?

Ans. Yes (not sure)

Q. क्या अनिल अग्रवाल smoking करते हैं?

Ans No

DISCLAIMER: अनिल अग्रवाल (Anil Agarwal) के बारे में उपरोक्त विवरण विभिन्न ऑनलाइन रिपोर्टों से प्राप्त किया गया हैं। वेबसाइट आंकड़ों की 100% सटीकता की गारंटी नहीं देती है। सभी तस्वीरें सोशल मीडिया अकाउंट से ली गई हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *